कठुआ में हुए दर्दनाक अपराध के आरोपियों के वकील को मिला मिला ऊंचा पद, क्या ये पीड़िता का अपमान नहीं?

जम्मू कश्मीर के कठुआ में आठ वर्षीय बच्ची के गैंगरेप और हत्या मामले मुख्या आरोपी के वकील असीम साहनी को जम्मू कश्मीर प्रशासन ने एडिशनल एडवोकेट जनरल बनाया है। वह अब जम्मू कश्मीर हाई कोर्ट की जम्मू बेंच में सरकार का पक्ष रखेंगे।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार मंगलवार को कानून विभाग द्वारा हाईकोर्ट के जम्मू विंग के लिए एडिशनल एडवोकेट जनरल, एडवोकेट जनरल और सरकारी वकीलों की सूची जारी की गयी थी, जिसमें साहनी का नाम 7 नंबर पर था। असीम साहनी जनवरी महीने में कठुआ के बकरवाल समुदाय की 8 साल की बच्ची के साथ हुए सामूहिक बलात्कार और हत्या के मामले के आरोपियों के वकीलों में से एक हैं, जिसकी सुनवाई पंजाब के पठानकोट की अदालत में चल रही है।

इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत के दौरान मंगलवार को साहनी ने कहा कि 2 जुलाई से मैं इस मामले में पेश नहीं हुआ हूं और अब आगे भी नहीं जाऊंगा.’ उन्होंने किसी भी तरह के हितों के टकराव से इनकार किया। साहनी ने कहा कि वे इस मामले में केवल ‘चैम्बर काउंसिल’ हैं, प्रमुख वकील उनके पिता एके साहनी हैं।

इस खबर के सामने आते ही जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने मुख्य आरोपी के वकील असीम साहनी की अतिरिक्त महाधिवक्ता (एएजी) के तौर पर नियुक्त किये जाने को चिंताजनक बताते हुए ट्वीट किया, निर्णय दोनों अस्पष्ट और चिंतित है, लेकिन यदि पीड़ित के वकील इस विकास से अनजान रूप से चिंतित नहीं हैं तो हममें से बाकी को युवा पीड़ित के लिए न्याय सुनिश्चित करने के लिए काम करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *