इस भाजपा नेता ने कहा, ‘अगर गले लगाना है तो पहले शशि थरूर और दिग्विजय सिंह को गले लगाए राहुल’

हाल ही लोकसभा में विपक्ष द्वारा सरकार के खिलाफ लाए गये अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गले लगा लिया था। उनकी इस हरकत पर महंगाई, बेरोज़गारी, महिला सुरक्षा जैसे मुद्दे भुला कर मीडिया में केवल इसको चर्चाए हो रही है और तरह तरह की बयानबाज़ी हो रही। अब एक डिबेट में भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने राहुल गांधी को पहले शशि थरूर और दिग्विजय सिंह को गले लगाने की बात कही है।

दरअसल इंडिया टीवी के कार्यक्रम कुरुक्षेत्र में भाजपा की ओर से संबित पात्रा और कांग्रेस की ओर से सांसद रंजीत रंजन अपनी पार्टी का पक्ष रखने के लिए मौजूद थी। राहुल गांधी के पीएम मोदी को गले लगाने के पीछे कारण जानने के सवाल पर संबित ने कहा कि कांग्रेस ने सरदार पटेल, लाल बहादुर शास्त्री, नरसिम्हा राव को गले नहीं लगाया और आज जब देश प्रधानमंत्री मोदी को गले लगा रहा है तो वो गले पड़ने की कोशिश कर रहे है।

भाजपा नेता की टिपण्णी के जवाब में रंजीत रंजन ने कहा कि उन्हें क्यों गले लगाने क्या वे देश में नफरत की राजनीती कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने पीएम मोदी को गले लगाकर नफरत की राजनीती करने वालो को सबक देने की कोशिश है।

कांग्रेस नेता के जवाब में संबित पात्रा ने तंज़ कसते हुए कहा कि हमारी बहन ने कहा कि नफरत की राजनीती ख़त्म करने के लिए एक नया तरीका इजाद किया है गले लगने का..आदरणीय राहुल जी अगर आपको नफरत की राजनीती ख़त्म करना है और उसके लिए गले लग्न है तो घर में ऐसे बहुत सारे लोग है जिनको गले लगाने शुरू किया जाए। उन्होंने कहा कि पहली बात है कि शशि थरूर को दिन में चार बार जरूर गले लगाएं क्योकि सुबह उठते ही वो कहते है हिन्दू तालिबान, हिन्दू पकिस्तान और कम से कम दिन में पांच छह बार जैसे ही मुह खोलने की कोशिश करें दिग्विजय जी को तुरंत गले लगाना चाहिए ताकि मुह खुल ही न सके क्योकिं मुह खुलते ही दिग्विजय सिंह 26/11 आरएसएस की साजिश, ओसामा जी, बाटला हाउस एनकाउंटर में टप-टप आंसू। इसके बाद इस मुद्दे को लेकर दोनों ही नेताओं के बीच काफी लंबी बहस हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *