सोनू निगम के बाद राज ठाकरे ने दिया अज़ान को लेकर शर्मनाक बयान, बातो बातो में कह गए ‘घर में पढो नमाज़’

अपने निडर अंदाज़ के लिए मशहूर महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे ने एक बार एक आक्रामक बयान दे दिया है। उन्होंने पुणे में एक रैली को संबोधित करते हुए मुसलमानों को लाउडस्पीकर पर अज़ान देने के बजाए घर पर नमाज़ पढने की सलाह दी। साथ ही उन्होंने राहुल के पीएम मोदी को गले मिलने पर अपना पक्ष रखा।

आजतक की रिपोर्ट के अनुसार राज ठाकरे ने कहा कि मुसलमानों को अज़ान देने के लिए लाउडस्पीकर की जरूरत क्यों है, अगर नमाज़ पढ़नी है तो घर में पढ़ सकते हो। उन्होंने कहा कि मैं महाराष्ट्र और देश के मुसलमानों को कई बार कहता हूं कि घर में नमाज़ पढ़नी चाहिए क्यों रास्ते में जाम लगाते हो। ठाकरे बोले कि अगर हर कोई इस ओर ध्यान देगा तो देश में संघर्ष नहीं होगा।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के पीएम मोदी से गले मिलने पर प्रतिक्रिया देते हुए राज ठाकरे ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम को गले लगाया तो हर कोई मज़ाक उड़ाने लगा। उन्होंने कहा कि पीएम दुनियाभर के नेताओं को गले मिलते रहते हैं, अगर राहुल उनसे मिले तो इसमें क्या गलत है।

राम मंदिर के मुद्दे पर मोदी सरकार को घेरते हुए राज ठाकरे ने कहा कि मैं कोई ज्योतिष नहीं हूं लेकिन जो मैंने कहा है वह हुआ है। उन्होंने कहा कि मैंने पहले ही कहा था कि चुनाव से पहले बीजेपी वाले राम मंदिर का मुद्दा उठाएंगे। अब चार साल बाद इन्हें भगवान राम की याद आई है, राम मंदिर बनना चाहिए लेकिन चुनाव के बाद। जब बीजेपी सरकार में आई थी, तभी राम मंदिर बनना चाहिए था।

महाराष्ट्र में आरक्षण को लेकर चल रहे मराठाओं के आंदोलन का राज ठाकरे ने समर्थन करते हुए कहा कि राज्य में हो रही हिंसा सरकार की नाकामी का प्रतीक है, अगर ये लोग सुरक्षा नहीं दे सकते हैं तो सत्ता संभालने का कोई हक नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *